"ईशा का अर्थ है: वह जो सृष्टि का स्रोत है। क्रिया का अर्थ है ‘उस स्रोत की ओर किया जाने वाला आन्तरिक काम’। ईशा क्रिया एक साधारण पर शक्तिशाली विधि है, जो हमें असत्य से सत्य की ओर ले जाती है।"

- सद्गुरु

सुख शांति की तकनीक

ईशा क्रिया के बारे में लोग क्या कहते हैं

" मैं ईशा क्रिया पांच महीने से कर रही हूँ और इससे मैंने जबर्दस्‍त परिवर्तन अनुभव किया है। अब मैं कम सोचने लगी हूँ। हर चीज़ के बारे में 'ऐसा क्यों है' जानने की आवश्यकता कम हो गयी है। अब जीवन बिना किसी संघर्ष के चलने लगा है।" - मैरी , कोलारेड़ो, अमेरिका।

"मैंने बस ईशा क्रिया का ध्यान करना शुरू किया और मुझे आश्‍चर्य हुआ कि सद्गुरु के साथ ये ध्यान करना कितना प्रभावशाली रहा, वह भी आनलाइन विडियो के माध्यम से। मैं वास्तव में आन्तरिक शान्ति, संतुलन और विरक्‍ति अनुभव करने लगी हूँ।" ֠ओल्गा अविला, हालेंड।

" मैंने आज ईशा क्रिया का अभ्यास किया और मेरी आँखों में आंसू उमड़ने लगे .... मेरे अंदर एक तरह की इच्‍छा जगी कि इसका यूं ही अधिक देर तक आनंद लेती रहूं।" ֠अपर्णा, हैदराबाद।

"मेरी सहायता करने के लिए सद्गुरु का धन्यवाद। मैंने पिछली जुलाई में इनर इंजीनियरिंग कोर्स किया और बहुत शांति का अनुभव किया। लेकिन दिसंबर में घुटना बदलने की सर्जरी के बाद अपने शरीर और मन को संभालना बहुत कठिन हो गया था। ईशा क्रिया को सीख कर अभ्यास करने से मुझे वोह शांति पुनः प्राप्त हो गयी है।" ֠गिल जोन्स, अमेरिका।

"ईशा क्रिया स्वयं में बहुत अद्भुत है, कितनी सूक्ष्म, कितनी सरल है यह और आपको बहुत गहराई में ले जाती है। आपमें बहुत आसानी से उमंग भर देती है। यह शाम्भवी, शक्तिचलन क्रिया और शून्य ध्यान के बीच बहुत अच्छी तरह फिट हो जाती है।" ֠नदेश, बालरोग चिकित्सक, मलेशिया।

"अपने एक दोस्त के अनुरोध से मैं इस साल मार्च में सद्गुरु (ईशा फाउंडेशन के संस्थापक) को सुनने गया। मुझे ध्यान का पहले से कोई अनुभव नहीं था और योग के बारे में थोडा बहुत ही जानता था। उस सत्र में ध्यान की जो विधि उन्होंने सिखाई , उसका अनुभव बहुत अनोखा था। इस छोटे से अनुभव ने मुझे आंतरिक शांति की भावना दी जिसने मुझे मेरे निजी जीवन में चल रहे कठिन दौर को संभालने के लिए इतना सक्षम बनाया, जितना मैं कभी सोच नहीं सकता था कि मेरे लिए मुमकिन है। मुझे लगता है कि सद्गुरु की मजाक करने की आदत और जीवन और दुनिया को देखने के नज़रिये से सीख कर हर व्यक्ति अच्छा जीवन जी सकता है।" - अलिदा होरने, न्याय सचिव, पेनसिलवेनिया, अमेरीका

अपने ईशा क्रिया के अनुभव बांटें

 
 
ISHA FOUNDATION
Isha Foundation - © 1997 - 2021 Isha Foundation. All Rights Reserved.
Site MapFeedbackContact UsInternational Yoga DayGuru Purnima 2019 View our Copyright and Privacy Policy